Home मध्य प्रदेश Mp में 1 मार्च से बढ़ेगा बस किराया: परिवहन मंत्री ने किया...

Mp में 1 मार्च से बढ़ेगा बस किराया: परिवहन मंत्री ने किया था ऐलान- ऑपरेटर और जनता की सहमति से तय होगा किराया, बस आपरेटर बोले- हमें अब तक कोई जानकारी नहीं


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • एमपी
  • भोपाल
  • परिवहन मंत्री ने घोषणा की थी कि ऑपरेटर और जनता की सहमति से किराया तय किया जाएगा, बस ऑपरेटर ने कहा कि हमें अभी तक कोई जानकारी नहीं है।

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपाल8 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

फाइल फोटो- परिवहन मंत्री ने गोविंद सिंह राजपूत ने बस ऑपरेटर और जनता की सहमति से किराया बढ़ाने के रेट तय करने की बात कही थी, इधर बसाहट को कोई जानकारी ही नहीं है।

  • परिवहन मंत्री ने गोविंद सिंह राजपूत ने कहा था कि बस ऑपरेटर और जनता की सहमति से किराए बढ़ाने के रेट तय करेंगे
  • एमपी बस ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष गोंविद शर्मा बोले- सरकार को समय दे, जल्द ही पदाधिकारियों की बैठक कर आगे की रणनीति तय होगी

मध्यप्रदेश में सरकार ने 1 मार्च से बसों का किराया बढ़ाने की घोषणा की है। इस संबंध में 25 फरवरी गुरुवार को परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने ऐलान किया था। साथ ही कहा था कि सरकार ने बसों का किराया बस ऑपरेटर और जनता की सहमति से बढ़ाने की बात कही थी। इधर किराया बढ़ने की तारीख के एक दिन पहले तक बस ऑपरेटर एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि उनके पदाधिकारियों को बुलाना दूर तक किराया बढ़ाने के संबंध में कोई जानकारी तक नहीं दी गई है।

रविवार को मध्यप्रदेश बस ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष गोविंद शर्मा ने कहा कि हमारी प्रस्तावित हड़ताल के एक दिन पहले परिवहन मंत्री ने किराया बढ़ाने का ऐलान किया था। यह हड़ताल को रोकने की इनपुट लग रही है। अब तक हमें ना तो किराया बढ़ाने के संबंध में कोई जानकारी दी गई और ना ही किसी बैठक में बुलाया गया। जबकि 1 मार्च से किराया बढ़ाने का परिहवन मंत्री ने एलान किया है। फिर भी हम सरकार को समय देंगे। इसके बाद एक दो दिन में ऐस शिक्षणन के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर आगे की रणनीति तय करेंगे।

6 महीने बाद मंत्री ने कहा, किराया बढ़ाओ

गोंविद शर्मा ने बताया कि 18 सितंबर को किराया बोर्ड की बैठक हो चुकी है। इसमें हमारे दो प्रतिनिधि और सरकार के अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में तय हुआ था कि 50 प्रतिशत किराया बढ़ेगा। इस निर्णय की फाइल को सरकार ने 6 महीने से दबाए बैठी है।

वहीं, विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सरकार किराया बोर्ड की पूर्व में हुई बैठक के अनुसार ही किराया बढ़ाने का निर्णय ले सकती है। हालांकि अभी भी इस मामले में परिवहन विभाग का कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है।

यह कहा गया था कि परिवहन मंत्री ने कहा था बस ऑपरेटर एसोसिएशन ने किराया बढ़ाने की मांग को लेकर 26 और 27 फरवरी को सांकेतिक हड़ताल का ऐलान किया था। इसके एक दिन पहले ही परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने 1 मार्च से बसों का किराया बढ़ाने की घोषणा कर दी थी। मंत्री ने कहा था कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ बैठक के बाद इस संबंध में निर्णय लिया गया है। किराया कितना बढ़ेगा, फिर भी यह तय नहीं है। राजपूत ने कहा था कि बस संचालक और यात्रियों की सहमति से किराया तय किया जाएगा। इसके बाद मध्यप्रदेश बसंत ने भी सरकार के आश्वासन के बाद हड़ताल को वापस ले ली थी। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए सरकार की ओर से कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।

15 से 25 प्रतिशत किरायया की चर्चा

सरकार बसों के किराए में 15 से 25 प्रतिशत वृद्धि करने की तेयारी कर रही है। इस पर बस ऑपरेटर एसोसिएशन का कहना है कि 25 प्रतिशत किराया वृद्धि होती है, तो हम उसका स्वागत करेंगे। डीजल के रेट में केवल 25 से 26 प्रतिशत की वृद्धि हो गई है। किराए में 25 प्रतिशत से कम वृद्धि मंजूर नहीं है।

यदि 25 प्रतिशत किराया बढ़ा तो …

प्रदेश में अभी डीलक्स बस 1.25 रुपए प्रति किमी और लोकल बस 1 रुपए प्रति किमी के किराए पर चलती है। यानी भोपाल से इंदौर की दूरी 190 किलोमीटर है। अभी डीलक्स बस से किराया 237 रुपए प्रति यात्री है। किराए में 25 प्रतिशत की वृद्धि होने पर किराया 298 रुपए के करीब हो जाएगा। वहीं, साधारण बस का किराया 1 रुपए प्रति किमी है। यानी अभी तक 190 रुपए किराया है। 25 प्रतिशत वृद्धि होने पर किराया 238 रुपए के लगभग हो जाएगा।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments