Home कैरियर SBI ने फिर घटाईं आपकी एफडी की ब्याज दरें, यहां चेक अब...

SBI ने फिर घटाईं आपकी एफडी की ब्याज दरें, यहां चेक अब कितना मिलेगा मुनाफा


भारतीय स्टेट बैंक (प्र​तीकात्मक तस्वीर)

RBI द्वारा नीतिगत ब्याज दरों में कटौती के बाद SBI ने भी फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज को कम कर दिया है. नई ब्याज दरें 28 मार्च से लागू हो जाएंगी.

नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा रेपो रेट में कटौती के शुक्रवार को देर शाम देश के सबसे बड़े बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट दरों में एक बार फिर कटौती कर दिया है. इसके पहले SBI ने बीते 10 मार्च को भी ब्याज दरों में कटौती किया था.

बता दें​ कि शुक्रवार को ही रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 0.75 फीसदी की कटौती किया था, जिसके बाद ये दरें 4.4 फीसदी के स्तर पर आ गया था. फिक्स्ड डिपॉजिट पर SBI की नई दरें 28 मार्च से लागू हो जाएंगी.

यह भी पढ़ें: बैंकों में जमा पैसों को लेकर RBI गवर्नर ने कहा- आपका पैसा पूरी तरह सुरक्षित

नए रिविजन के बाद अब SBI में 7 दिन से लेकर 45 दिन के ​एफडी पर 4 फीसदी की जगह 3.5 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. जबकि 46 दिन से लेकर 179 दिन के लिए यह 4.5 फीसदी हो गया है. इसी प्रकार 180 दिन से 210 दिन के लिए और 211 दिन से 1 साल से कम अवधि के ये दरें 5 फीसदी होंगी.इसके अलावा 1 साल से 2 साल से कम अवधि, 2 साल से 3 साल से कम अवधि के लिए और 3 साल से 5 साल से कम अवधि की एफडी पर SBI ने ब्याज दर को घटाकर 5.7 फीसदी कर दिया है. 5 साल से 10 साल की एफडी पर ये ब्याज दरें 5.7 फीसदी हैं.

यह भी पढ़ें: RBI ने 3 महीने तक होम और कार लोन की EMI नहीं चुकाने की छूट दी

वरिष्ठ नागरिकों को एफडी पर अब कितना मिलेगा ब्याज
वरिष्ठ नागरिकों के लिए एफडी पर ब्याज दरें 50 बेसिस प्वाइंट यानी 0.50 फीसदी अधिक होंगी. इस हिसाब से SBI में वरिष्ठ नागरिकों को 7 से 5 दिन के लिए 4 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. जबकि, 46 दिन से लेकर 179 दिन और 180 दिन से लेकर 210 दिन के लिए ये ब्याज दरें क्रमश: 5 फीसदी और 5.5 फीसदी होंगी. 211 दिन से लेकर 1 साल से कम अवधि पर यह 5.5 फीसदी ही होगा.

इसके अलाव 1 साल से लेकर 10 साल के लिए विभिन्नन अवधि में यह दरें 6.2 फीसदी होगी.

यह भी पढ़ें: गरीबों-किसानों और महिलाओं के लिए कितना मददगार है मोदी सरकार का राहत पैकेज?








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments