Home कैरियर SBI ने 44 करोड़ ग्राहकों को किया अलर्ट! भूलकर भी ना करें...

SBI ने 44 करोड़ ग्राहकों को किया अलर्ट! भूलकर भी ना करें ये काम, वरना खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट


sbi alert

SBI Alert : देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) में अगर आपका खाता है तो यह खबर आपके लिए काफी जरूरी है. बैंक ने अपने सभी ग्राहकों को अलर्ट जारी किया है. SBI ने अपने करोड़ों ग्राहकों को यूपीआई (UPI) फ्रॉड को लेकर अलर्ट किया है.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    February 27, 2021, 10:16 AM IST

नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) में अगर आपका खाता है तो यह खबर आपके लिए काफी जरूरी है. बैंक ने अपने सभी ग्राहकों को अलर्ट जारी किया है. SBI ने अपने करोड़ों ग्राहकों को यूपीआई (UPI) फ्रॉड को लेकर अलर्ट किया है. अपने ट्विटर हैंडल पर इसकी जानकारी दी है. SBI ने कहा है कि अगर आपको UPI के जरिए अकाउंट से पैसे डेबिट किए जाने का SMS अलर्ट मिलता है, लेकिन आपके द्वारा किसी प्रकार का कोई डेबिट नहीं किया गया है तो अलर्ट हो जाएं और सबसे पहले UPI सर्विस को बंद कर दें. अलर्ट जारी करते हुए SBI ने ग्राहकों को कुछ सुझाव भी दिए हैं जिनका पालन करने को कहा है.

जानिए, बैंक ने क्या कहा?
SBI ने UPI सेवा को बंद करने के लिए जानकारी भी शेयर किया है. बैंक ने कहा कि UPI सेवा को बंद करने के लिए ग्राहक टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800111109 पर कॉल कर सकते हैं. या फिर आईवीआर नंबर 1800-425-3800 / 1800-11-2211 पर भी कॉल कर सकते हैं. इसके अलावा
https://cms.onlinesbi.sbi.com/cms/ पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं. साथ ही 9223008333 नंबर पर SMS भेज कर शिकायत बता सकते हैं.

sbi tweet

sbi tweet

ये भी पढ़ें- PPF में करें निवेश, टैक्स छूट के साथ मिलेगा ज्यादा ब्याज, जानें अन्य शानदार फायदे..

बैंक समय-समय पर जारी करता है अलर्ट
बता दें कि देश का सबसे बड़ा बैंक ग्राहकों की सुरक्षा के लिए आए दिन अलर्ट जारी करता रहता है. एसबीआई का मकसद ग्राहकों के पैसे सुरक्षित रखना है. बैंक अपने ट्विटर हैंडल और एमएमएस के जरिए ग्राहकों को अलर्ट भेजता रहता है.

ये भी पढ़ें- रेगुलर इनकम के लिए Saving Schemes में करें निवेश, जानें POMIS, SCSS, PMVVY या FD कौन दे रहा ज्यादा ब्याज?

लगातार बढ़ रहे हैं बैंकिंग फ्रॉड के मामले
बता दें कि लाॅकडाउन के दौरान हैं बैंकिंग फ्रॉड के मामले बढ़े हैं. आरबीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार डिजिटल लेनदेन के चलते साल 2018-19 में 71,543 करोड़ रुपए का बैंकिंग फ्रॉड हुआ है. इस अवधि में बैंक फ्रॉड के 6800 से अधिक मामले सामने आए. साल 2017-18 में बैंक फ्रॉड के 5916 मामले सामने आए थे. इनमें 41,167 करोड़ रुपए से अधिक की धोखाधड़ी हुई थी. पिछले 11 वित्त वर्ष में बैंक फ्रॉड के कुल 53,334 मामले सामने आए हैं, जबकि इनके जरिये 2.05 लाख करोड़ रुपए की धोखाधड़ी हुई है.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments