Home देश की ख़बरें UP News: चॉकलेट देकर सीएम योगी ने किया बच्चों का स्वागत, पूछा-...

UP News: चॉकलेट देकर सीएम योगी ने किया बच्चों का स्वागत, पूछा- रोज स्कूल आते हैं


चॉकलेट देकर सीएम योगी ने बच्चों का स्वागत किया

स्कूल की प्रिंसिपल (प्रिंसिपल) डॉ। रचना पांडे बताती हैं कि अचानक मुख्यमंत्री (मुख्यमंत्री) के स्कूल में पहुंचने से पूरा माहौल ही बदल गया।

लखनऊ। राजधानी लखनऊ (लखनऊ) के प्राथमिक विद्यालय नरही में पढ़ने वाले बच्चों का स्कूल का पहला दिन यादगार बन गया है। कोरोना संक्रमण की वजह से साल भर से बंद चल रही कक्षा एक से पांच तक के स्कूल मुख्यमंत्री यागी आदित्यनाथ (सीएम योगी आदित्यनाथ) के निर्देश पर सोमवार को फिर से खुल गया। वहीं, मुख्यमंत्री ने बच्चों का स्कूल का पहला दिन ही खास बना दिया। सुबह करीब 11 बजे सीएम नरही के प्राथमिक विद्यालय में पहुंचने तक पहुंच गए। यहां मुख्यमंत्री ने न सिर्फ बच्चों को चॉकलेट देकर उनका स्वागत किया, बल्कि पढ़ाई के बारे में बात की। सीएम योगी ने बच्चों से पूछा कि एक साल की बात स्कूल आकर कैसी लग रही है। इस पर बच्चों ने एक साथ जवाब दिया बहुत अच्छा लग रहा है। लगभग 20 मिनट तक सीएम स्कूल में रुके।

बच्चे बोले सीएम अंकल को पास से देखा
सरकारी प्राथमिक विद्यालय नरही में पढ़ने वाले बच्चों के लिए पहले दिन ही खास हो गए हैं। बच्चे कहते हैं कि उन्होंने सीएम अंकल को बहुत करीब से देखा। उनसे बात की है सीएम अंकल ने जाना-जाना उन्हें चॉकलेट भी दी। छात्रा रचना रावत बताती हैं कि मुख्यमंत्री ने उनका नाम कक्षा और घर बताया । वहाँ में पूछा गया। स्कूल की प्रिंसिपल डॉ। रचना पांडे बताती हैं कि अचानक मुख्यमंत्री के स्कूल में पहुंचने से पूरा माहौल ही बदल गया। बच्चों के लिए भी पहली बार यह अनूठा अनुभव रहा जब सीएम उनके बीच थे।

बहुत जरूरी काम करनाबच्चों ने बताया कि सीएम अंकल उन्हें बताया गया है, की संकाय लगाना बहुत जरूरी है। इससे हम संक्रमण से बच सकते हैं। उन्होंने बच्चो से कहा कि रोज़ रोज़ बदल कर आते हो। मुख्यमंत्री ने अध्यापकों को भी निर्देश दिया कि बच्चों को को विभाजित नियमों की भी जानकारी दें।

सीएम बोले- रोज़ स्कूल आओगे

योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के नरही में स्थित प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने छोटे बच्चों से पूछा कि स्कूल रोज़ आओगे या कभी-कभी इस पर बच्चों ने कहा कि वह रोज़ स्कूल आएंगे। सीएम ने प्राथमिक विद्यालय के स्मार्ट क्लास का भी निरीक्षण किया। उन्होंने बच्चों से पूछा कि एक साल तक स्कूल बंद थे तो पढ़ाई कैसे करें? इस पर बच्चों ने बताया कि वह शुरुआती पढ़ाई कर रहे थे।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments